Video Editing

वीडियो एडिटिंग में है जबरदस्त कैरियर बनाने के कई अवसर !

Articles
अगर आप कल्पनाशील व्यक्ति हैं और सॉफ्टवेयर पर काम करना पसंद है तो वीडियो एडिटिंग की फील्ड में सफल हो सकते है | आजकल प्रत्येक फिल्म निर्माण कंपनी और स्टूडियो में एडिटर की भारी मांग है | इस कार्य की पहली शर्त सिनेमाई कल्पनाशील है | जिसके आधार पर एक फिल्म एडिटर वीडियो एडिटिंग के माध्यम से फिल्म को फाइनल आकार देता है | वीडियो एडिटिंग के अंतर्गत एडिटिंग के कांसेप्ट और उससे जुड़ी चीजों के बारे में विस्तार से बताया जाता है | फुटेज की कैप्चरिंग, फुटेज को एडिट करने से लेकर किन – किन विजुअल को कहां फिट करना है, म्यूजिक और साउंड को किस तरह मिक्स करना है | यह तमाम काम वीडियो एडिटिंग में माहिर एडिटर ही सकते हैं | इसके लिए थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों की ट्रेनिंग जरूरी है | वीडियो एडिटर्स पहले लीनियर तकनीक के जरिए काम करते थे | अब वह वीडियो एडिटिंग द्वारा काम करते हैं | कैमरामैन के विजुअल की एडिटिंग कंप्यूटराइज सॉफ्टवेयर की मदद से कुछ ही देर में पूरी कर ली जाती है |
Video Editing
Video Editing
कोर्स और शैक्षणिक योग्यता
सर्टिफिकेट कोर्स इन वीडियो एडिटिंग एंड साउंड रिकॉर्डिंग तथा डिप्लोमा इन पोस्ट प्रोडक्शन एंड वीडियो एडिटिंग जैसे कोर्स 16 महीने से लेकर 3 साल तक की है | 1.5 से 3 महीने के सॉर्ट टर्म कोर्स भी उपलब्ध है | कोर्स में दाखिला लेने के लिए यू तो 12 वीं बाद रास्ता खुल जाता है लेकिन डिग्री और डिप्लोमा के लिए किसी भी विषय में ग्रेजुएट होना जरूरी है | अगर आप किसी चैनल में नौकरी पाना चाहते हैं तो ग्रेजुएट होना जरूरी है | इस फिल्ड में सफलता के लिए विषय की समझ होना आवश्यक है |
योग्यताएं
एक सफल वीडियो एडिटर बनने के लिए कल्पनाशील होना चाहिए | ताकि सीन की जरूरत को समझते हुए सही साउंड के मिक्सिंग किए जा सके | जो लोग क्रिएटिव प्रकृति के होते हैं और सूट किये सीन की विभिन्न सॉफ्टवेयर की मदद से प्रभावी एडिटिंग करने में रुचि रखते हैं उनके लिए वीडियो एडिटिंग का प्रोफेशन बेहद समझदार है | इंटरटेनमेंट एवं मीडिया इंडस्ट्री से जुड़े हुए प्रोफेशन में पैसा भी बहुत है और रोजगार के अवसर भी काफी है | न्यूज़ व इंटरटेनमेंट चैनल, म्यूजिक इंडस्ट्री, फीचर विज्ञापन एजेंसी, फिल्म, TV में रोजगार के भरपूर मोके हैं | इसके अलावा पोस्ट प्रोडक्शन, स्टूडियो, टेलीविजन कंपनी, कांटेक्ट पर भी काम मिलता है | इसके अलावा लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से ज्यादातर अपडेट रहने की जरूरत होती है | दूसरों को ध्यान से सुनने और टीम में काम करने का गुण महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है |
अवसर
कोर्स पूरा करने के बाद न्यूज़, एडवर्टाइजमेंट, चैनल, प्रोडक्शन हाउस, वेब डिजाइनिंग कंपनी, म्यूजिक वर्ल्ड, टीचर एवं विज्ञापन, फ़िल्में और बीपीओ आदी में काम कर सकते हैं | या फिर आप फ्रीलांसर भी काम कर सकते हैं | इस क्षेत्र में फ्रीलांसर के लिए भी काफी विकल्प है | पोस्ट प्रोडक्शन स्टूडियो, टेलीविजन कंपनी आदि में शार्ट टर्म  कॉन्ट्रेक पर भी काम किया जा सकता है |
काफी मांग है
अगर आपके अंदर विजुअल्स को समझने और उनका तुरंत मूल्यांकन करने की क्षमता है तो वीडियो एडिटिंग का कोर्स आपके लिए बेहतर हो सकता है | इन दिनों एडिटिंग की लेटेस्ट टेक्नोलॉजी के कारण वीडियो एडिटर की डिमांड लगातार बढ़ रही है | क्योंकि किसी भी फिल्म या TV प्रोग्राम की कल्पना वीडियो एडिटर्स के बिना संभव नहीं है | एक अनुमान के मुताबिक भविष्य में एक लाख से अधिक प्रशिक्षित वीडियो एडिटर्स की डिमांड होगी | वीडियो एडिटर के फील्ड में सफलता पाने के लिए आवश्यक है कि आप दुनिया में हो रहे बदलाव को समझें और उनकी अपनी एडिटिंग करें |
कोर्स कहां से करें
फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे
एनआरएआई स्कूल ऑफ मास कम्युनिकेशन, नई दिल्ली
टीजीसी एनिमेशन एंड मल्टीमीडिया, जयपुर
एटीट्यूड वृक्ष स्कूल ऑफ मास कम्युनिकेशन, नोएडा

Notice: Undefined index: recomendations_protocol in /home/educationhouse/public_html/wp-content/plugins/free-comments-for-wordpress-vuukle/vuukleplatform.php on line 34