career opportunities in nursing

नर्सिंग में आप बना सकते हैं शानदार करियर, फुल गाइडेंस

Articles EH Blog

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम अनिल पायल है, पूरी दुनिया में कुशल नर्सेज की मांग बढ़ी है और यही कारण है कि इस पेशे की तरफ युवाओं का रुझान भी बढ़ा है| नर्सिंग के क्षेत्र में बहुत कुछ नया हो रहा है| सरकार इस सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए नई योजनाएं लेकर आ रही है| नर्सिग के क्षेत्र में अब महिलाओं के साथ बड़ी संख्या में पुरुष भी भागीदारी कर रहे हैं विदेश में भी नर्सिंग के लिए सुनहरे मौके मौजूद है| 

career opportunities in nursing
Career opportunities in nursing

नर्सिंग में करियर

चिकित्सा के क्षेत्र में अस्पतालों का कामकाज इस दौर में बहुत आयामी हो गया है| अब यहां सिर्फ उपचार नहीं बल्कि सेवा सत्कार पर भी ध्यान दिया जाता है| देश में मेडिकल टूरिज्म को बढ़ावा मिला है विदेश से उपचार के लिए आने वाले लोग हर लिहाज से अच्छी सुविधा चाहते हैं इन बदलावों ने नर्सिंग करियर को नए आयाम दिए हैं|

भारत में रेलवे टिकट कलेक्टर या TC बनना है बहुत आसान ! ये है पूरी प्रोसेस

स्पेशलाइज्ड नर्सिंग

इस क्षेत्र में बेहतर संभावनाओं के लिए कार्डियोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, क्रिटिकल केयर,ऑंकोलॉजी आदि सुपर स्पेशलिस्ट में मास्टर डिग्री और पीएचडी की जा सकती है| नर्सिंग की बेसिक पढ़ाई के आधार पर स्टाफ नर्स की नौकरी मिल सकती है कार्य अनुभव और स्पेशलाइज्ड बेहतर मौका दिला सकता है|

Career opportunities in nursing
Career opportunities in nursing

कहां मिलेंगे मौके

नर्सिंग का कार्यक्षेत्र केवल मरीजों की देखभाल करने तक सीमित नहीं है| योग्य नर्सेज के लिए शिक्षण, प्रशासनिक व शोध कार्यों से संबंधित अवसर भी उपलब्ध है| नर्सिंग से जुड़े लोग बेरोजगार नहीं रहते वह निजी या सरकारी हॉस्पिटल, नर्सिंग होम अनाथालय, वृद्ध आश्रम, सेनेटोरियम और सैन्य बलों में नौकरी पा सकते हैं|

दम है तो काँच का बॉक्स तोड़ो और 20 करोड़ रुपये ले जाओ!

कौनकौन से हैं कोर्स

नर्सिंग में कई स्तर पर कोर्स उपलब्ध है आगस्लरी मिडवाइफरी कोर्स में 12 वीं कक्षा के बाद प्रवेश लिया जा सकता है| जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी के लिए भी न्यूनतम योग्यता 12वीं पास रखी गई है यह दोनों ही काफी उपयोगी कोर्स हैं|

Career opportunities in nursing
Career opportunities in nursing

नेचर ऑफ वर्क

नर्स की कार्य क्षमता के हिसाब से उनकी भूमिकाओं को विभाजित किया जा सकता है| अस्पताल और नर्सिंग होम में नर्सिंग का काम करने वालों को जनरल नर्स कहा जाता है| उनके मुख्य कार्य में मरीजों की देखभाल, डॉक्टर के काम में सहयोग और प्रशासनिक जिम्मेदारियां शामिल है| इसके बाद मिडवाइफ श्रेणी में वह नर्स आती हैं जिनकी विशेषज्ञता गर्भवती महिलाओं का ख्याल रखना और चाइल्डबर्थ के दौरान सहायता मुहैया कराना होता है| इसके अलावा ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने वाले नर्सिंग से जुड़े लोग हेल्थ वर्कर कहलाते हैं| नर्सिंग फील्ड में काम करने वालों के लिए धैर्यवान होना बहुत जरूरी होता है|

जिगोलो गंदा है पर धंधा है… यहां महिलाएं लगाती हैं मर्दों की बोली!

दोस्तों आर्टिकल लिखने के लिए मुझे काफी मेहनत करनी पड़ती है और मेरा काफी समय लग जाता है इसलिए में आपसे एक लाइक और शेयर की उम्मीद करता हूँ…| धन्यवाद

Connect With Us on Facebook | Follow us on Instagram | Join WhatsApp Group