Five scientists killed by their own inventions

अपने ही आविष्कारों से मारे गए यह पांच वैज्ञानिक!

Articles EH Blog

हेलो दोस्तो मेरा नाम अनिल पायल है, वैसे तो दुनिया में बहुत सारे आविष्कार हुए हैं कुछ आविष्कारों ने हमारे जिंदगी को आसान बना दिया तो कुछ नहीं विज्ञान के रहस्य को सुलझा कर हमें एक नई दिशा दिखाएं| समय-समय पर हुए आविष्कारों ने इंसानी जरूरतों को पूरा तो किया ही है साथ ही इंसान के जीने के जरिए को भी बदल दिया है. अधिकतर अविष्कारों का पहला प्रयोग या पहला परिष्करण अक्सर वैज्ञानिक खुद पर ही करते हैं इनमें से कुछ जानलेवा साबित हो जाते हैं | आज मैं आपको उन वैज्ञानिकों के बारे में बताऊंगा जिनकी खुद के आविष्कारों की वजह से मौत हो गई|

Five scientists killed by their own inventions

Marie Curie : भौतिकी और रसायन विज्ञान की बहुत बड़ी वैज्ञानिक Marie को आज दुनिया उनके आविष्कार की वजह से जानती है. रेडियो एक्टिविटी क्षेत्र में बहुत बड़ी भूमिका निभाने वाली Marie ने रेडियम और पोलिनियम तत्वों की खोज की थी| इसके साथ ही उन्होंने रेडियो एक्टिविटी का सिद्धांत भी दिया था. उनकी खोजों के बदौलत ही एक्स-रे का आविष्कार हो सका है. नोबेल पुरस्कार से सम्मानित प्रथम महिला होने के साथ-साथ और रसायन जैसे क्षेत्रों में दो अलग-अलग नोबेल पुरस्कार जीतने वाली Marie Cureie आज भी एकमात्र इंसान हैं. जिन खोजों के लिए उनको जाना जाता है वही उनकी मौत के कारण बने| रेडिएशन के संपर्क में आने की वजह से Marie एक गंभीर बीमारी का शिकार हो गई थी जिनके कारण उनकी मौत हो गई. Five scientists killed by their own inventions

दुनिया के सात अजूबों के बारे में जानकर आप हैरान हो जाएंगे

Image result for Max Valier


Max Valier : मैक्स रॉकेट के संभावित भविष्य के बारे में भविष्यवाणी करने वाले इंसानों ने से पहले इंसान थे| मैक्स ने 1928 और 1929 के बीच स्विच बोंस के साथ मिलकर रॉकेट आविष्कारों की शुरुआत की थी. इसके अलावा उन्होंने तरल ईंधन वाले रोकेट का भी परीक्षण किया था और यही परीक्षण बाद में उनकी मौत की वजह बन गए| 1930 में 35 वर्ष की उम्र में परीक्षण केंद्र में हुए एक विस्फोट के कारण मैक्स की मौत हो गई. बिना किसी सुरक्षा इंतजामों के उन्होंने तरल ऑक्सीजन गैस लीन इंधन ए रॉकेट का परीक्षण की गलती कर दी| दो सफल परीक्षण के बाद जब उन्होंने तीसरे परीक्षण की कोशिश की तो विस्फोट हुआ और उनसे उसकी मौत हो गई|

Five scientists killed by their own inventions
Jean Francois Pilatre de Rozier : Rozier फ्रांस में रहने वाले फिजिक्स और केमिस्ट्रीइन थे. जिन्होंने 1783 में पहली बार हॉट बैलून की सवारी की थी| इस काम ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्रदान की. वह यह गौरव किसी और को देना भी नहीं चाहते थे| बाद में दो अन्य लोगों ने सबसे पहले हॉट बैलून से इंग्लिश चैनल को पार करने का रिकॉर्ड बनाया और वह दोनों ने अंतरराष्ट्रीय सुपरस्टार बन गए|  Rozier को उनसे ईर्ष्या हुई जिसके कारण उन्होंने उन दोनों से बेहतर एक नया बलून तैयार किया और इस से इंग्लिश चैनल को पार करते समय किसी गड़बड़ी की वजह से उस उड़ान के दौरान ही मौत हो गई. Five scientists killed by their own inventions

भूखे पेट रेलवे स्टेशन पर सोने वाला लड़का बना 1600 करोड़ का मालिक

Related image
Louis Alexander Slotin : सन 1946 में लुईस एलेग्जेंडर सहित आठ वैज्ञानिकों का एक दल प्लूटोनियम बम का एक जटिल प्रयोग कर रहा था जिसके तहत उनको प्लूटोनियम से भरे दो अर्थ गोलाकार हिस्सों को इतना करीब लाना था कि वह विस्फोट के लिए तैयार हो सकें| इससे पहले उन्होंने इस प्रकार के बहुत प्रयोग किए थे लेकिन प्लूटोनियम के दो हिस्सों को अलग अलग रखने के लिए स्क्रुड्राइवर के अचानक खिसक जाने से उसमें एक जोर का धमाका हुआ जिससे उनकी मौत हो गई|

Five scientists killed by their own inventions
Franz Reichelt : ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले Franze Reichelt पेसे से एक टेलर होने के साथ-साथ एक इन्वेंटर भी थे जो पैराशूट बनाने और उसका इस्तेमाल करने के लिए प्रसिद्ध हुए| एक बार उन्होंने खुद की ही बनाई हुई पैराशूट से एफिल टावर से छलांग लगाई और वह पैराशूट ठीक से खोल नहीं पाए जिसके चलते उनकी मौत हो गई|

क्या एक लड़के और लड़की का होटल के कमरे में संभोग करना कानूनन अपराध है?

क्या आप भी आविष्कार करके उसे अपने ऊपर परीक्षण करते हैं? अगर आपने कभी कोई आविष्कार किया होता ने कमेंट में जरूर बताएं….


Notice: Undefined index: recomendations_protocol in /home/educationhouse/public_html/wp-content/plugins/free-comments-for-wordpress-vuukle/vuukleplatform.php on line 34