Supreme Court declares big decision on Aadhaar card

सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड पर सुनाया बड़ा फैसला! आम आदमी के लिए है बेहद खास

Articles EH Blog

सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड पर बड़ा फैसला दिया है और इसी के साथ ही आधार एक्ट के सेक्शन 47, सेक्शन 57 और सेक्शन 33 सब सेक्शन २ को रद्द कर दिया गया है| सुप्रीम कोर्ट ने आधार एक्ट 2016 के तीन सेक्शन को रद्द किया है| जिनमें से पहला है- सेक्शन 47

Supreme Court declares big decision on Aadhaar card

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में सेक्शन 47 को अनकॉन्शियसनल करार कर दिया है| इसके तहत डेटाबेस के लिए अपराधिक मुकदमे को दर्ज कराने की इजाजत सिर्फ UIDAI को ही थी लेकिन अब इस सेक्शन की रद्द होने के बाद कोई भी शख्स जिसे ऐसा लगता है कि उसके डाटा का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है वो अपराधिक मुकदमा दर्ज करा सकता है|

Image result for सेक्शन 57


सेक्शन 57 के तहत किसी शख्स की पहचान को वेरीफाई करने के लिए आधार की जानकारी का इस्तेमाल करने की इजाजत थी| लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब ये अनकॉन्शियसनल हो चुका है| जजेस ने यह कहा है कि किसी शख्स के सत्यापन के लिए पहले से ही तमाम अरेजमेंट मौजूद हैं| ऐसे में आप इस तरह के सेक्शन के जरिए लोगों की निजता में दखल नहीं दे सकते| सुप्रीम कोर्ट की बैच ने कहा कि प्राइवेट कंपनियों को आधार कार्ड के डाटा को जमा करने की अनुमति देने वाले आधार कानून की सेक्शन 57 को रद्द किया जाता है|

Supreme Court declares big decision on Aadhaar card
सेक्शन 33 सब सेक्सन 2 – इस सेक्शन में यह प्रोविजन था कि किसी भी शख्स की जानकारी के बारे में खुलासा किया जा सकता है| लेकिन अब इस सेक्शन को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है| लिहाजा अब किसी शख्स की जानकारी का खुलासा नहीं किया जा सकता|

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया तो हमे  फॉलो करें और आर्टिकल को लाइक करें, कमेंट करें|