japan

जापानी लोग 100 साल से ज्यादा कैसे जिन्दा रहते है? लम्बी उम्र के जापानी तरीके!

Articles

ऐसा माना जाता है कि टेक्नोलॉजी और आधुनिक सुविधाओं ने एक तरफ हमारी जिंदगी आसान बनाई है वहीं दूसरी तरफ इनकी वजह से हमारी फिजिकल  एक्टिविटीज खत्म होती जा रही हैं क्योंकि जो पहले हम अपने आप किया करते थे उनकी जगह आज मशीनें , रोबोट और रिमोट ने ले ली  है . मोटापा , डायबिटीज , कॉलेस्ट्रॉल , माइग्रेन , हार्ट अटैक और कैंसर जैसी कई गंभीर बीमारियां दुनिया भर के देशों में तेजी से फैल रहे हैं | लेकिन जापान  की बात की जाए तो आपको यह जानकर हैरानी होगी कि जापान टेक्नोलॉजी और नए – नए आविष्कारों के क्षेत्र में सभी देशों से आगे होने के बावजूद भी विश्व के सबसे सेहतमंद देशों की श्रेणी में आता है |  

क्या जेल में 12 घंटे को 1 दिन और 24 घंटे को 2 दिन गिना जाता है

जापान में लाइफ एक्सपेक्टेंसी रेट सबसे ज्यादा है यानी कि यहां के लोग पूरी दुनिया में सबसे लंबी उम्र तक जीने वाले लोग माने जाते हैं | कुछ वर्षों पहले Melding की यूनिवर्सिटी के द्वारा जापान पर किए गए सर्वे में यह पाया गया कि जापान में करीबन 50000 से भी ज्यादा लोग ऐसे हैं जिनकी उम्र  100 वर्ष से भी ज्यादा है . मोटापे की अगर बात की जाए तो पूरी दुनिया में जापान का ओबेसिटी रेट सबसे कम है . जापान में मोटे लोग बिल्कुल ना के बराबर हैं | जापान में आज सोने से लेकर चलने-फिरने और यहां तक कि खाने पीने मैं भी टेक्नोलॉजी का सहारा लिया जाता है , लेकिन फिर भी यहां के लोग इतने ज्यादा हेल्दी कैसे रहते हैं , वह कौन-कौन से कारण हैं ,  जिनकी वजह से यह लोग लंबी उम्र तक जवान रह पाते हैं , खान-पान से लेकर डेली रूटीन और लाइफस्टाइल में जापान के लोग दूसरे देशों के लोगों से काफी अलग होते हैं | आइए जानते हैं जापान के लोगों की सेहत से जुड़े कुछ ऐसे सीक्रेटस के बारे में|

How do Japanese people live longer than 100 years

1. चाय पीने का चलन

चाय जापान की सबसे फेवरेट ड्रिंक्स में से एक है .  सुबह से लेकर शाम तक और हर तरह की ओकेजन और त्यौहार पर अलग-अलग तरह की चाय पी जाती है . यहां लगभग 100 से अधिक प्रकार की चाय की पैदावार होती है और सबसे ज्यादा यहां ग्रीन टी पी जाती है | जापान में पाई जाने वाली सभी चाय हमारे यहां की चाय से कई गुना ज्यादा बेहतर और सेहतमंद होती है क्योंकि यह लोग अपनी चाय में चीनी और दूध जैसी चीजों का इस्तेमाल नहीं करते  | अलग- अलग बीमारियों और कमजोरियों में भी यहां ट्रेडिशनल चाय का इस्तेमाल किया जाता है और चाय को पीने का तरीका अलग और बनाने की रेसिपी अलग होती है . यहां लगभग 28 से भी ज्यादा अलग-अलग प्रकार की ग्रीन टी पी जाती है , जिसमें Sencha , Gyokuro , matcha , Hoji- cha सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है . यहां पर पी जाने वाली इतनी सारी अलग-अलग तरह की चाय हड्डियों से लेकर हमारे बाल ,  डाइजेशन और अंदरूनी शक्ति को लंबी उम्र तक हेल्दी रखने में बहुत महत्वपूर्ण योगदान देती है और साथ ही एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने की वजह से इनकी जाए शरीर को लगातार इनके शरीर को लगातार डिटॉक्स भी करती रहती है , जिससे थका देने वाले हालातों में भी लोग एक्टिव बने रहते हैं |

बच्चे पैदा करने की फैक्ट्री है युगांडा!

Image result for जापान में लोग पैदल चलते है

2. पैदल चलना

जापान में अधिकतर लोग अपने सभी कामों को करने के लिए पैदल चलना ज्यादा पसंद करते हैं क्योंकि यह उनकी लाइफस्टाइल का एक बहुत ही खास हिस्सा है | अद्भुत तकनीकी विकास की बदौलत आज जापान के पास सुविधाओं की कोई कमी नहीं है . लेकिन फिर भी यहां के लोग कार खरीदने या अपने निजी वाहन से सफर करने से ज्यादा पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करने में विश्वास रखते हैं क्योंकि उनका मानना है कि इस तरह वह अपने आपको आलस्य दूर करके हमेशा फिट रहते हैं  और पब्लिक ट्रांसपोर्ट यानी कि बस या ट्रेन से सफर करने के लिए लंबे समय तक पैदल चलना पड़ता है और ट्रेन में भी कई बार खड़े रहकर ही सफर करना पड़ता है , जिससे भोजन पचाने में भी आसानी होती है और शरीर का वजन भी नहीं बढ़ता |

How do Japanese people live longer than 100 years

3. जापानीज डाइट

जापान के लोगों की सेहत पर सबसे ज्यादा उनके भोजन और खान-पान से  जुड़े नियम का प्रभाव पड़ता है इनके भोजन में Calorie , Fat , Sugar  की मात्रा बहुत कम होती है जिसकी वजह से इनका वजन नहीं बढ़ता और यह लोग डायबिटीज , कॉलेस्ट्रॉल तथा मोटापे जैसी कई बीमारियों से बचे भी रहते हैं | आइए जानते हैं कि जापान अपने आप को लंबी उम्र तक तंदुरुस्त रखने और अपनी खूबसूरती को बनाए रखने के लिए अपनी रेगुलर  डाइट में क्या – क्या खाते हैं — Sea food , Sea weed चाहे वेज है या नॉनवेज जापान के लोग ज्यादातर समुद्र में पाए जाने  वाली चीजें ही खाते हैं . समुद्र में पाए जाने वाले पौधों से लेकर हर तरह के जीव को खाने के यह लोग बहुत शौकीन होते हैं | क्या आप जानते हैं समुद्री सब्जियां जमीन पर उगने वाली सब्जियों के मुकाबले 10 गुना ज्यादा ताकतवर होती हैं और साथ ही मछलियों के मांस में चिकन और  fry मीट से भी उसे कई गुना ज्यादा पोषक तत्व पाए जाते हैं | जापान अकेला हर साल पूरी दुनिया कि फिश सप्लाई का 10% कंज्यूम कर लेता है और साथ ही साल भर में जापान के लोग करीबन 100000 टन सीवीट का सेवन कर लेते हैं |

5 ऐसे सवाल जो विज्ञान को खामोश कर देते हैं!

Related image

मात्र एक कप सीरीज 5 से 10 तरह के प्रोटीन होते हैं और साथ ही में आयोडीन तथा पोटेशियम की मात्रा भी भरपूर होती है | Fish की अगर बात की जाए यह ओमेगा 3 फैटी एसिड , विटामिन बी , विटामिन डी , कैल्शियम , मैग्नीशियम , आयरन और जिंक जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं | कहा जाता है कि समुद्री भोजन करने वाले की हड्डियां हमेशा मजबूत रहते हैं तथा त्वचा हमेशा जवान और बाल लंबे घने और काले रहते हैं | डेरी प्रोडक्ट से बात की जाए तो जैपनीज डाइट में दूध और दूध से बनी हुई चीजों का बहुत कम सेवन किया जाता है क्योंकि  समुद्री भोजन ज्यादा करने के कारण दूध इन लोगों को सूट नहीं होता | ज्यादातर खाए जाने वाली चीजों में मैदे और आटे से बनी चीजें कम यूज होती हैं और सब्जियों का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है | यही वजह है कि यहां के लोगों को पेट से संबंधित रोग भी बहुत कम होते हैं . रोटी या ब्रेड की जगह यहां चावल अधिक खाए जाते हैं और जापान के चावल हमारे यहां के चावल से कई गुना ज्यादा हेल्दी होते हैं | सफेद चावल के अलावा यहां ब्राउन और ग्रीन राइस का सेवन भी किया जाता है और यह सभी चावल  एक दम फैट फ्री होते हैं |

सिर्फ 2 घंटे काम करके आप बन जाएंगे अमीर! जानिए क्या है वो काम?

Image result for जापान में खाना खाने और बनाने का तरीका

4.खाना खाने और बनाने का तरीका

जापान में तली हुई  यानी कि Deep fried चीजें बहुत कम खाई जाती हैं . यहां घरों में ज्यादातर खाना  भाप से बनाया जाता है . भाप से पकने पर भोजन में पोषक तत्व बरकरार रहते हैं साथ ही खाने का स्वाद भी बना रहता है | खाना पकाने के लिए यह स्लो कुकिंग मेथड अपनाते हैं यानी कि इनके यहां धीमी आंच पर खाना बनाया जाता है ज्यादातर पकवान  यहां सूप ग्रेवी वाले होते हैं . जापान में सूखे वह ड्राई स्नैक्स बहुत कम खाए जाते हैं . यहां के लोग जिन बर्तनों में खाना खाते हैं उनका आकार बहुत छोटा होता है जैसे कि किसी छोटे बच्चे को भोजन परोसा जा रहा हो , छोटे बर्तनों पर इस्तेमाल  यह लोग जानबूझकर करते हैं क्योंकि यहां ओवर ईटिंग सही नहीं माना जाता छोटे बर्तनों के इस्तेमाल से एक ही बार में ज्यादा भोजन खाने में नहीं आता और भूख भी कम खाने से ही शांत हो जाती है | कम भोजन करने वाला व्यक्ति हमेशा एक्टिव रहता है, शरीर का ब्लड प्रेशर हमेशा नार्मल रहता है और उसे कभी भी दिल की बीमारी नहीं होती|

Image result for जापान में साफ सफाई

5. साफ सफाई

जापान विश्व के सबसे साफ सुथरे देशों में से एक है . यहां के लोग जो अपनी कंट्री से दूसरे देश में भी जाते हैं तो वहां भी साफ-सफाई का बहुत ध्यान रखते हैं . इनका मानना है कि साफ सफाई से बीमारियां नहीं फैलती , दिमागी संतुलन बना रहता है जिससे बिना वजह होने वाली हेल्थ प्रॉब्लम  से आसानी से बचा जा सकता है |

कुछ भारतीयों ने बनाए अजीब वर्ल्ड रिकॉर्ड!

6. यूनिवर्सल हेल्थ केयर

जापान एक तरफ जहां अपने खान-पान से लेकर काफी सचेत है वहीं दूसरी और अच्छी सेहत बरकरार रखने के लिए यहां के लोग रूटीन  बेसिस पर हेल्थ चेकअप करवाते रहते हैं . शरीर में सब कुछ सही चल रहा है या नहीं किस तरह की कमजोरी या किस तरह की बीमारी आने के लक्षण नजर आ रहे हैं |   इन सब बातों की जानकारी रखना उनकी आदत बन चुकी है . यहां के लोग महीने में कम से कम 1 बार और साल में कम से कम 12 बार डॉक्टर के पास केवल अपना हेल्थ चेकअप करवाने के लिए जाते हैं |

तो दोस्तों यह थी जापान के लोगों की लंबी उम्र तक जीवित रहने और अपनी खूबसूरती को बनाए रखने की कुछ खास बातें . इनमें से काफी सारी आदत है ऐसी है जो हम खुद भी अपना सकते हैं और अपने आप को पहले से ज्यादा सेहतमंद बना सकते हैं,  तो दोस्तों आप सभी को हमारी आज की जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताइएगा और अगर आप सभी को हमारी न्यूज़ अच्छी लगी हो तो लाइक और शेयर जरूर कीजिएगा धन्यवाद |

Follow us on Facebook

Credit : Jannat facts


Notice: Undefined index: recomendations_protocol in /home/educationhouse/public_html/wp-content/plugins/free-comments-for-wordpress-vuukle/vuukleplatform.php on line 34